मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना की शुरुआत 29 नवंबर को होगी, राष्ट्रपति करेंगी उद्घाटन

Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana Kya Hai, हरियाणा मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के लाभ एवं पात्रता, आवेदन प्रक्रिया जाने

हरियाणा सरकार द्वारा नागरिकों के स्वास्थ्य से संबंधित सुविधा के लिए मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना को को शुरू किया जा रहा है। इस योजना के तहत राज्य के प्रत्येक नागरिक के स्वास्थ्य की जांच और विभिन्न प्रकार के टेस्ट सरकार द्वारा निशुल्क रूप से किए जाएंगे। कुरुक्षेत्र की धरती पर राष्ट्रपति द्रोपति मुर्मू और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के द्वारा Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana का शुभारंभ करेंगी। 29 नवम्बर को इस योजना की सौगात अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के शुभारंभ अवसर पर दी जाएगी। इस योजना का शुभारंभ करने की तैयारी जिला प्रशासन स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जोर- शोर से की जा रही है। कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ और कौन होगा पात्र इन सभी जानकारी के लिए आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा क्योंकि आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना से संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana

Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana 20222

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और देश की राष्ट्रपति श्रीमती द्रोपति मुर्मू के द्वारा 29 नवंबर को कुरुक्षेत्र में मुख्यमंत्री स्वास्थ्य संरक्षण योजना का शुभारंभ किया जाएगा। स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 2 सालों में घर-घर जाकर राज्य के लोगों के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी और उनकी उम्र के हिसाब से कुछ टेस्ट भी किए जाएंगे। इस योजना का संचालन राज्य के सभी हिस्सों में किया जाएगा ताकि पात्र लाभार्थी इस योजना के तहत लाभ प्राप्त कर सके। राज्य के नागरिकों को इस योजना के माध्यम से अस्पतालों के चक्कर काटने से मुक्ति मिलेगी। इन सभी टेस्ट और स्वास्थ्य की जांच निशुल्क की जाएगी।

Swasthya Sarvekshan Yojana के तहत राज्य के अंत्योदय परिवारों के 1 करोड़ 60 लाख से अधिक नागरिकों को सरकार द्वारा स्वास्थ्य सर्वे किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में चलाई जा रही उपचार योजना के तहत दी जा रही सेवा का सरकार के पास 1.8 करोड़ नागरिकों का स्वास्थ्य सेवाओं का डाटा उपलब्ध है। स्वास्थ्य डाटा एकत्र करने के लिए ऐसे सभी नागरिकों के लिए उपचार का यूनिवर्सल पोर्टल बनाया जाएगा।

Haryana Chirayu Yojana 

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना 2022 Key Highlights

योजना का नाम Mukhyamantri Swasthya Sarvekshan Yojana
योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के द्वारा
उद्देश्य स्वास्थ्य संबंधी सुविधा उपलब्ध कराना
लाभार्थी राज्य के नागरिक
योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सहायता घर-घर जाकर स्वास्थ्य चेकअप और विभिन्न प्रकार के टेस्ट फ्री में करना
राज्य हरियाणा
साल 2022
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट https://eupchaarharyana.org.in/

Mukhymantri Swasthya Sarvekshan Yojana का उद्देश्य

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के सभी नागरिकों को घर घर जाकर स्वास्थ्य चेकअप और विभिन्न प्रकार के टेस्ट फ्री में प्रदान करना है। ताकि राज्य के सभी नागरिकों की स्वास्थ्य की जांच निश्चित रूप से की जा सके। राज्य के लोगों को मिलने वाली सुविधा के माध्यम से नागरिकों को अस्पतालों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं होगी। आपको बता दे कि जगमग गांव योजना की तर्ज पर हरियाणा सरकार की ओर से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना का शुभारंभ अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव पर कुरुक्षेत्र में किया जाएगा।

स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना को 5 श्रेणियों में किया जाएगा विभाजित

हरियाणा में स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना को राज्यों के नागरिकों तक पहुंचाने के लिए उम्र के हिसाब से 5 श्रेणियों में विभाजित किया गया है।

  • प्रथम श्रेणी में जन्म से 6 माह तक
  • द्वितीय श्रेणी में 6 माह से 59 माह तक
  • तृतीय श्रेणी में 5 से 18 साल तक
  • चौथी श्रेणी में 18 से 40 साल तक और
  • पांचवीं श्रेणी में 40 साल से ऊपर की आयु वर्ग को शामिल किया गया है।

आत्मनिर्भर हरियाणा योजना

Swasthya Sarvekshan Yojana में शामिल किए जाने वाले परिवार

  • मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के तहत सबसे पहले अंत्योदय योजना के तहत आने वाले परिवारों की जांच की जाएगी।
  • इस योजना के तहत जिन परिवारों की वार्षिक आय 1 लाख 80 हजार रुपए से कम है उन्हें मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • हरियाणा में अंत्योदय योजना के तहत 26 लाख 64 हजार 257 नागरिकों में से 1 करोड़ 6 लाख 475 नागरिकों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इसके बाद शेष बाकी परिवारों को इस योजना से जोड़ा जाएगा।

स्वास्थ्य की जांच करने के लिए अस्पतालों का चयन

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य संरक्षण योजना के तहत लगभग 4 लाख नागरिकों के स्वास्थ्य की जांच करने का लक्ष्य हरियाणा सरकार द्वारा प्रथम चरण में निर्धारित किया गया है। इस योजना के तहत जिले में एलएनजेपी अस्पताल शाहबाद व पिहोवा के राजकीय अस्पतालों का चयन किया गया है।

गांव स्तर पर बनाए जाएंगे कॉल सेंटर

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के तहत कॉल सेंटर बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि आमजन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए ग्राम स्तर पर नागरिकों के लिए कॉल सेंटर बनाए जाए ताकि Mukhymantri Swasthya Sarvekshan Yojana से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान आसानी से किया जा सके। उन्होंने बताया कि चिरायु योजना का रजिस्ट्रेशन करवाने में स्वास्थ्य कार्ड निशुल्क बनाए जा रहे हैं। इसके लिए सरकार द्वारा कोई भी शुल्क नहीं लिया जा रहा है। लेकिन कई केंद्रों पर कुछ राशि लेने की शिकायतें आ रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी ऐसी शिकायतों पर तुरंत संज्ञान ले और उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करें।

Mukhymantri Swasthya Sarvekshan Yojana के लिए पात्रता

  • मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के लिए आवेदकों हरियाणा का मूल निवासी होना चाहिए।
  • सभी वर्ग के नागरिक इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र होंगे।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थाई प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Haryana Saksham Yojana

मुख्यमंत्री स्वास्थ्य संरक्षण योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • Mukhymantri Swasthya Sarvekshan Yojana का लाभ राज्य के नागरिकों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत घर-घर जाकर स्वास्थ्य चेकअप किए जाएंगे और विभिन्न प्रकार के टेस्ट भी निशुल्क किए जाएंगे।
  • राज्य के नागरिकों को अब इस सुविधा का लाभ मिलने से अस्पतालों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • घर-घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच होने से समय और पैसे दोनों की बचत होगी।
  • स्वास्थ्य की जांच होने से लोगों को कौन सी बीमारी है इस बात का पता चल सकेगा। तथा समय पर उपचार किया जा सकेगा।
  • हरियाणा के हर जिले में स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना को संचालित किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत राज्य के नागरिकों को 5 श्रेणियों में विभाजित किया गया है।
  • अंत्योदय योजना के तहत आने वाले परिवारों की जांच मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के अंतर्गत सबसे पहले की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सर्वेक्षण योजना के माध्यम से राज्य के नागरिकों को काफी लाभ पहुंचेगा।

ई-उपचार वेब पोर्टल पर किया जाएगा सारा डाटा अपलोड

Mukhymantri Swasthya Sarvekshan Yojana के तहत राज्य के प्रत्येक जिले में घर-घर जाकर नागरिकों के स्वास्थ्य की जांच करने के बाद सारा डाटा ही उपचार वेब पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा। जिसके माध्यम से किसी भी जगह से राज्यों के नागरिक के स्वास्थ्य की रिपोर्ट को ऑनलाइन देखा जा सकेगा।

Leave a Comment