Today’s current affairs in hindi : 26 Feb 2020 | Daily current affairs

Today’s current affairs in hindi/ News Headlines :26 Feb 2020. UPSC, SSC, बैंक, रेलवे सहित केंद्र एबं राज्य सरकारों द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए उपयोगी। तो तैयार हो जाइये करंट अफेयर्स, एक दम नए तरीके से पढ़ने के लिए

Today’s current affairs in hindi : 26 Feb 2020. तुरंत सभी आवश्यक जानकारी के साथ नवीनतम करेंट अफेयर्स प्राप्त करें, आज के सभी मौजूदा मामलों को जानने के लिए पहले बनें 26 फरवरी 2020 शीर्ष समाचार, प्रमुख मुद्दे, वर्तमान समाचार, राष्ट्रीय वर्तमान समाचारों में महत्वपूर्ण घटनाएं स्पष्ट स्पष्टीकरण के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं और साक्षात्कारों के लिए, अपने आप को नवीनतम करंट अफेयर्स  से update करें।यहाँ पर आपको मिलेगा  नयी नियुक्तियां , अवार्ड्स और सम्मान, रक्षा समाचार, खेल समाचार, विज्ञान एवं तकनीक , ज्ञापन समझौता, महत्पूर्ण समिट और बहुत कुछ

Today's Hindi Current Affairs

Today’s Hindi Current Affairs / News Headlines

28% आधार बेस्ड पेमेंट्स गलत खातों में जा रही हैं: नीति आयोग की रिपोर्ट

नीति आयोग ने हाल ही में राष्ट्रीय पोषण अभियान पर रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट के अनुसार 28% आधार बेस्ड पेमेंट्स गलत खातों में जा रही है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत की जाने वाली काफी पेमेंट्स गलत खातों में गयी हैं।

मुख्य बिंदु

यह नीति आयोग द्वारा जारी की गयी दूसरी रिपोर्ट है। इस रिपोर्ट को केन्द्रीय महिला व बाल विकास मंत्रालय द्वारा जारी किया गया है। इस रिपोर्ट के अनुसार लगभग 66% डायरेक्ट बेनिफिट ट्रान्सफर (DBT) आधार पर बेस्ड हैं। गौरतलब है कि कुल लाभार्थियों में से केवल 60% लोगों को ही लाभ प्राप्त होने की जानकारी है।

समिति ने असम समझौते के क्लॉज़ 6 पर रिपोर्ट सौंपी

assam 1

25 फरवरी, 2020 को एक उच्च स्तरीय समिति ने असम समझौते के क्लॉज़ 6 के क्रियान्वयन की समीक्षा के लिए गठित समिति ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को रिपोर्ट सौंप दी है।

इस समिति की अध्यक्षता सेवानिवृत्त न्यायधीश बी.के. शर्मा द्वारा की गयी। इस रिपोर्ट को मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल द्वारा केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को सौंपा जायेगा।

असम समझौते के क्लॉज़ 6 में असम के लोगों की सांस्कृतिक, सामाजिक, भाषाई पहचान तथा धरोहर को सुरक्षित रखने के लिए संवैधानिक, कानूनी व प्रशासनिक  प्रावधान है।

क्लॉज़ 6 के तहत उठाये गये कदम

असम के लोगों के लिए प्रशासनिक, संवैधानिक और वैधानिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए क्लॉज़-6 के तहत कई कदम उठाये गये हैं, इनमे से प्रमुख हैं :

  • मानव संसाधन विकास मंत्रालय से प्राप्त फंड्स से श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र सोसाइटी की स्थापना की गयी
  • ज्योति चित्रबन फिल्म स्टूडियो स्कीम को लांच किया
  • भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने पांच स्मारकों सिंगरी मंदिर अवशेष, पोआ-मक्का, उर्वशी पुरातत्व स्थल, केदार मंदिर और हयग्रीव माधव मंदिर के संरक्षण कार्य शुरू कर दिया है।

असम समझौता क्या है?

असम समझौते पर भारत सरकार और असम मूवमेंट के नेताओं ने 1985 में हस्ताक्षर किये थे। इस समझौते के तहत भारत सरकार ने 1966 से पहले आये प्रवासियों को स्वीकार किया तथा भारत सरकार ने असम के लोगों को सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक व आर्थिक अधिकार प्रदान करने पर सहमती प्रकट की थी।

अजय बंगा को मास्टर कार्ड का एग्जीक्यूटिव चेयरमैन नियुक्त किया गया

Mastercard Inc

भारतीय मूल के अजय बंगा को मास्टर कार्ड के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स का एग्जीक्यूटिव चेयरमैन नियुक्त किया गया है। वे 10 वर्ष तक मास्टर कार्ड के सीईओ रहे। अजय बंगा 1 जनवरी, 2021 को एग्जीक्यूटिव चेयरमैन का कार्यभार संभालेंगे। 1 जनवरी, 2021 को माइकल मायबाक मास्टर कार्ड के नए सीईओ का कार्यभार संभालेंगे।

मास्टर कार्ड

मास्टर कार्ड एक अमेरिकी बहुराष्ट्रीय वित्तीय सेवा कंपनी है, इसका मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित है। इसकी स्थापना 1966 में की गयी थी। गौरतलब है कि मास्टर कार्ड के अध्यक्ष व सीईओ भारतीय मूल के अजयपाल सिंह बंगा हैं। मास्टर कार्ड के उत्पाद में डेबिट कार्ड व  क्रेडिट कार्ड प्रमुख हैं। इसके प्रमुख ब्रांड सिरस, मेस्ट्रो, मोंडेक्स तथा मास्टर पास इत्यादि हैं।

भारत सरकार ने मंदी से निपटने के लिए प्रति चक्रीय राजकोषीय नीति अपनायी 

भारत सरकार ने देश में आर्थिक मंदी को कम करने के लिए “प्रति चक्रीय राजकोषीय नीति” (Counter Cyclical Fiscal Policy) को अपनाया है। मुंबई में एक्सप्रेस अडा इवेंट में मुख्य आर्थिक सलाहकार सुब्रमण्यम ने कहा कि प्रतिचक्रीय राजकोषीय नीति अतिरिक्त राजकोषीय अंतराल बनाने का एकमात्र तरीका है

मुख्य बिंदु

भारत सरकार 5 ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था प्राप्त करने की राह पर अग्रसर है। आर्थिक सर्वेक्षण 2019-20 के अनुसार धन-संपदा सृजन (wealth creation) इस लक्ष्य को प्राप्त करने का एकमात्र तरीका है। Wealth Creation के साथ, भारत सरकार ने आर्थिक मंदी को रोकने के लिए प्रति-चक्रीय राजकोषीय नीति उपाय को अपनाने की योजना बनाई है।

प्रति-चक्रीय राजकोषीय नीति

यह राजकोषीय उपायों के माध्यम से मंदी या उछाल का मुकाबला करने के लिए अपनाई जाने वाली रणनीति है। मंदी के दौरान, प्रति-चक्रीय राजकोषीय नीति का उद्देश्य करों को कम करना और व्यय में वृद्धि करना होता है। इसका उद्देश्य देश में मांग उत्पन्न करना है ताकि देश में आर्थिक गतिविधियों में तेज़ी लायी जा सके। दूसरी ओर, एक अर्थव्यवस्था में उछाल के दौरान, प्रति-चक्रीय राजकोषीय नीति का उद्देश्य करों को बढ़ाना और सार्वजनिक व्यय को कम करना होता है। उछाल को अधिक बढ़ावा देना विनाशकारी हो सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि इससे मुद्रास्फीति और ऋण संकट बढ़ सकता है।

चक्रीय राजकोषीय नीति (Pro Cyclical Fiscal Policy)

आर्थिक सर्वेक्षण 2017 द्वारा यह स्वीकार किया गया था। यह व्यवसाय के वर्तमान स्वरुप के अनुरूप होती है। उदाहरण के लिए,  उछाल के दौरान, सरकार उछाल को बढ़ावा देने के लिए  अपने व्यय में वृद्धि कर सकती है।

मानसिक स्वास्थ्य पर भारत-अमेरिका का ज्ञापन समझौता : अमेरिकी जेनरिक दवाओं के लिए भारतीय पारंपरिक चिकित्सा का आदान-प्रदान किया जाएगा

India US 2

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की भारत यात्रा के दौरान, दोनों देशों ने ऊर्जा, तेल, रक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में समझौतों पर हस्ताक्षर किए। भारत और अमेरिका ने मानसिक स्वास्थ्य पर समझौते पर हस्ताक्षर किए, जिससे भारत मानसिक स्वास्थ्य से सम्बंधित समस्याओं का इलाज कर सके।

मुख्य बिंदु

इस समझौते से अमेरिकी बाजार में भारत की पारंपरिक दवाओं और उपचारों की अधिक पहुंच होगी। इसके अलावा भारत को अमेरिका के जेनेरिक दवा बाजार में  पहुंच प्राप्त होगी। इससे भारत को सामान्य मानक अनुपालन के उच्च स्तर प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

आवश्यकता

लैंसेट रिपोर्ट के अनुसार, 1990 में मानसिक स्वास्थ्य विकार 3% से बढ़कर 2013 में 6% हो गए हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार देश में 80% मानसिक विकार रिपोर्ट नहीं किए जाते।

भारत के लिए अपने मानसिक स्वास्थ्य उपचार को बढ़ावा देना महत्वपूर्ण है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि एक अनुमान के अनुसार वैश्विक स्तर पर लगभग 1 ट्रिलियन डॉलर मूल्य की उत्पादकता अवसाद और चिंता के कारण खो गई है।

5 मार्च को लांच किया जाएगा GISAT-1 उपग्रह

Satellite 2

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) भारतीय उपमहाद्वीप की लगातार निगरानी के लिए GISAT 1 (अर्थ-इमेजिंग सैटेलाइट) लॉन्च करने जा रहा है।

मुख्य बिंदु

इसरो द्वारा 5 मार्च, 2020 को उपग्रह का प्रक्षेपण किया जायेगा। इस उपग्रह को जीएसएलवी-एफ 10 रॉकेट द्वारा लांच किया जाएगा। इस उपग्रह का वजन 2,275 किलोग्राम है और इसे जियोसिंक्रोनस कक्षा में रखा जाना है।

GISAT

जीआईएसएटी भू-सूचना उपग्रह (Geo-Information Satellite) है। यह उपग्रह पृथ्वी का पूरा चक्कर लगाएगा और हर 2 घंटे में एक ही बिंदु पर आएगा। यह उपग्रह तेजी से निगरानी और इमेजिंग करने में सक्षम है। इसरो ने उपग्रह को इस तरह से डिजाइन किया है कि आवश्यकता पड़ने पर यह उपग्रह एक लंबी अवधि के लिए एक बिंदु का निरीक्षण कर सकता है।

यह इसरो द्वारा 2020 में लॉन्च किया जाने वाला पहला उपग्रह है। GISAT के बाद, देश की अंतरिक्ष निगरानी शक्ति को बढ़ावा देने के लिए 10 और उपग्रहों को लॉन्च किया जायेगा। इन उपग्रहों से सीमा सुरक्षा को मजबूत करने और आतंकवादी घुसपैठ को नियंत्रित करने में भी मदद मिलेगी।

NPCI ने लांच किया ‘यूपीआई चलेगा’ अभियान

UPI

राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation  of India) ने नए यूजर्स को आकर्षित करने के लिए ‘यूपीआई चलेगा’ अभियान लांच किया है। इसका उद्देश्य लोगों को रोकड़ लेनदेन की जगह कैशलेस लेनदेन का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना है।

UPI

UPI 2016 में नोटबंदी से पहले लॉन्च किया गया था। यह उपयोगकर्ताओं को बैंक विवरण दर्ज किए बिना किसी भी खाते में अपने खाते से पैसे भेजने में सक्षम बनाता है। UPI में लेनदेन Email Id और QR कोड का उपयोग करके किया जाता है। UPI के लॉन्च के पीछे मुख्य उद्देश्य डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देना था।

राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation  of India)

भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम भारत में खुदरा भुगतान से सम्बंधित कार्य करता है। इसे भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा प्रमोट किया जाता है। इसकी स्थापना 2008 में गैर-लाभकारी संस्था के रूप में की गयी थी। भारत के स्वदेशी पेमेंट कार्ड ‘RuPay’ के विकास में NPCI की भूमिका काफी महत्वपूर्ण थी।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में एयरबेस में “Exercise Inderdhanush” की शुरुआत हुई

exercise indradhanush commenced at airbase in ghaziabad uttar pradeshभारतीय वायु सेना (आईएएफ) और रॉयल एयर फोर्स (आरएएफ) ने 24 फरवरी 2020 को वायु सेना स्टेशन हिंडन में पूर्व इन्द्रधनुष के पांचवें संस्करण की शुरुआत की। अभ्यास के इस संस्करण का ‘फोकस बेस डिफेंस एंड फोर्स प्रोटेक्शन’ है। आतंकी तत्वों से सैन्य प्रतिष्ठानों के लिए हाल के खतरों को देखते हुए यह विषय महत्व का है। इस अभ्यास का औपचारिक रूप से समापन 29 फरवरी 2020 को होगा।

कैबिनेट ने राष्ट्रीय तकनीकी कपड़ा मिशन की स्थापना को मंजूरी दी

cabinet approves setting up of national technical textiles missionप्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 1480 करोड़ रुपये के कुल परिव्यय के साथ एक राष्ट्रीय तकनीकी कपड़ा मिशन स्थापित करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी है। कपड़ा मिशन के पास वित्त वर्ष 2020-21 से 2023-24 तक चार साल की कार्यान्वयन अवधि होगी।

उद्देश्य:
मिशन का उद्देश्य भारत को तकनीकी वस्त्रों में एक वैश्विक नेता के रूप में स्थान देना है। मिशन की वित्तीय वर्ष 2020-21 से 2023-24 तक 4 वर्षों की कार्यान्वयन अवधि होगी।

मिशन के चार घटक होंगे:
घटक-I (अनुसंधान, नवाचार और विकास)
घटक -II (संवर्धन और बाजार विकास)
घटक – III (निर्यात संवर्धन)
घटक- IV (शिक्षा, प्रशिक्षण, कौशल विकास)

INCOIS ने 3 तकनीकी सहायता और अलर्ट सिस्टम लॉन्च किए

incois launched 3 technological support and alert systemsहैदराबाद स्थित इंडियन नेशनल सेंटर फॉर ओशन इंफॉर्मेशन सर्विसेज (INCOIS) ने 25 फरवरी को तीन नए तकनीकी समर्थन और अलर्ट सिस्टम लॉन्च किए। इस तकनीक का उद्देश्य चरम मौसम और समुद्री घटनाओं के दौरान मछुआरों , अपतटीय तेल अन्वेषण उद्योगों और तटीय आबादी को नुकसान और नुकसान को कम करना है।

  1. प्रफुल्लित वृद्धि पूर्वानुमान प्रणाली
  2. लघु पोत सलाहकार और पूर्वानुमान सेवा प्रणाली (SVAS)
  3. Algal ब्लूम सूचना सेवा (ABIS) 

INCOIS
पर स्थापित: 1999
में स्थित है: प्रगति नगर, हैदराबाद
INCOIS एक स्वायत्त संगठन है जो पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (MoES) के तहत कार्य करता है । संगठनों का लक्ष्य समुद्री क्षेत्र में उपयोगकर्ताओं को कई मुफ्त सेवाएं प्रदान करना है।

जावेद अशरफ को फ्रांस में सिंधिया का अगला राजदूत नियुक्त किया गया

jawed ashraf appointed as indias next ambassador to franceराजनयिक जावेद अशरफ को 26 फरवरी को फ्रांस में भारत का अगला राजदूत नियुक्त किया गया है। घोषणा विदेश मंत्रालय (MEA) द्वारा की गई थी। वह शीघ्र ही कार्यभार ग्रहण करेंगे। यह नियुक्ति भारत और फ्रांस के बीच बढ़ते रणनीतिक संबंधों के मद्देनजर की गई है।

जावेद अशरफ:
जावेद अशरफ 1991 बैच के भारतीय विदेश सेवा (IFS) अधिकारी हैं। वर्तमान में वह सिंगापुर में भारतीय उच्चायुक्त के रूप में कार्यरत हैं। वह फ्रांस में भारत के राजदूत के रूप में विनय मोहन क्वात्रा की जगह लेंगे । दूसरी ओर, क्वात्रा को नेपाल में भारत का राजदूत नियुक्त किया गया है।

फ्रांस:
राष्ट्रपति: इमैनुएल मैक्रॉन
प्रधान मंत्री: एडोउर्ड फिलिप
राजधानी: पेरिस
आधिकारिक / राष्ट्रीय: फ्रांसीसी
मुद्रा: यूरो (€) (EUR)

सुएला ब्रेवरमैन को यूके के नए अटॉर्नी जनरल के रूप में नियुक्त किया गया

suella braverman appointed as the uks new attorney general भारतीय मूल के सुएला ब्रेवरमैन को ब्रिटेन के नए अटॉर्नी जनरल के रूप में नियुक्त किया गया है । नियुक्ति फरवरी 2020 में ब्रिटिश प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन के फेरबदल मंत्रिमंडल में आती है। 24 फरवरी को लंदन में रॉयल कोर्ट ऑफ़ जस्टिस में एक समारोह में सुलेला ब्रेवरमैन ने पद की शपथ ली।
ब्रेवरमैन में विधि अधिकारियों के विभागों के काम की समीक्षा शामिल होगी। वह स्वतंत्र अभियोजन अधिकारियों, क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस (CPS) और सीरियस फ्रॉड ऑफिस की देखरेख करेंगी।

सुएला ब्रवरमैन:
सुला ब्रेवरमैन, 39 वर्षीय मंत्री, एक बैरिस्टर और कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी लॉ स्नातक हैं। उन्होंने सार्वजनिक कानून और न्यायिक समीक्षा में विशेषज्ञता हासिल की थी। 2015 के बाद से, उन्होंने दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड में फ़ारेहम के लिए एक सांसद के रूप में सेवा की। शेय ने यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के लिए विभाग में मंत्री के रूप में कार्य किया। उन्होंने ट्रेजरी वकील के अटॉर्नी जनरल के पैनल के सदस्य के रूप में कार्य किया।
उन्होंने कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय में कानून का अध्ययन किया। उसने पेरिस विश्वविद्यालय से कानून में मास्टर्स पूरा किया। ब्रवरमैन कंजरवेटिव पार्टी की सरकार द्वारा नियुक्त की जाने वाली पहली महिला अटॉर्नी जनरल थीं ।

8 दिवसीय वसंतोत्सव गांधीनगर में शुरू हुआ

वसंतोत्सव नामक आठ दिवसीय सांस्कृतिक मेले का उद्घाटन मंगलवार को गांधीनगर के संस्क्रती कुंज में किया गया। वार्षिक उत्सव युवा और सांस्कृतिक मामलों के विभाग द्वारा आयोजित किया जाता है, जो देश की समृद्ध विविध विरासत का जश्न मनाने के लिए है। इस वर्ष उत्सव का विषय एक भारत श्रेष्ठ भारत है।

हमसाधवानी थ्यागराजा पुरस्कार 2020

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने चेन्नई के कलाक्षेत्र फाउंडेशन में आयोजित एक समारोह में वायलिन वादक एम. चंद्रशेखरन को हमसाधवानी थ्यागराजा पुरस्कार प्रदान किया। वयोवृद्ध संगीतकार आर.के. श्रीकांतन को पहले हमसाधवानी थ्यागराजा पुरस्कार से सम्मानित किया गया था

मध्य प्रदेश एकीकृत वाहन पंजीकरण कार्ड लॉन्च करने वाला पहला राज्य बन गया है।

मध्य प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जिसने एकीकृत पंजीकरण कार्ड शुरू किया है और उत्तर प्रदेश के बाद दूसरा राज्य जिसने एकीकृत ड्राइविंग लाइसेंस शुरू किया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भोपाल में आयोजित एक समारोह में छह व्यक्तियों को वाहन पंजीकरण और ड्राइविंग लाइसेंस सहित एकीकृत कार्ड वितरित किए।

सोर्स : GK TODAY AND FRESHERSLIVE

Hindi Current Affairs  : 25 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 24 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 23 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 22 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 21 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 20 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 19 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 18 Feb 2020

I hope, this article about 26 February 2020 Current Affairs in Hindi | 26 फरवरी 2020 करेंट अफेयर्स | GKTodayJobAlert in Hindi is very informative for you.

If you liked this article please follow us on Facebook and Twitter.

Share Now “Sharing is Caring”

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.