Today’s current affairs in hindi : 28 Feb 2020 | Daily current affairs

Today’s current affairs in hindi/ News Headlines :28 Feb 2020. UPSC, SSC, बैंक, रेलवे सहित केंद्र एबं राज्य सरकारों द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगिता परीक्षा के लिए उपयोगी। तो तैयार हो जाइये करंट अफेयर्स, एक दम नए तरीके से पढ़ने के लिए

Today’s current affairs in hindi : 28 Feb 2020. तुरंत सभी आवश्यक जानकारी के साथ नवीनतम करेंट अफेयर्स प्राप्त करें, आज के सभी मौजूदा मामलों को जानने के लिए पहले बनें 28 फरवरी 2020 शीर्ष समाचार, प्रमुख मुद्दे, वर्तमान समाचार, राष्ट्रीय वर्तमान समाचारों में महत्वपूर्ण घटनाएं स्पष्ट स्पष्टीकरण के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर। सभी प्रतियोगी परीक्षाओं और साक्षात्कारों के लिए, अपने आप को नवीनतम करंट अफेयर्स  से update करें।यहाँ पर आपको मिलेगा  नयी नियुक्तियां , अवार्ड्स और सम्मान, रक्षा समाचार, खेल समाचार, विज्ञान एवं तकनीक , ज्ञापन समझौता, महत्पूर्ण समिट और बहुत कुछ

Today's Hindi Current Affairs

Today’s Hindi Current Affairs / News Headlines

नीति आयोग ने स्कूलों में लांच किये आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मोड्यूल

NITI Aayog

नीति आयोग समर्थित अटल इनोवेशन मिशन और नैसकॉम ने अटल टिंकरिंग लैब्स के छात्रों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस बेस्ड लर्निंग कोर्स लांच किये। इन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस मोड्यूल्स का क्रियान्वयन लगभग 5000 अटल टिंकरिंग लैब्स में किया जाएगा, इससे 2.5 मिलियन छात्रों को लाभ होगा। नीति आयोग का मत है कि मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के विकास से भारत की जीडीपी में 1.3% की वृद्धि हो सकती है।

अटल इनोवेशन मिशन (AIM) उद्देश्य

  • अर्थव्यवस्था के विभिन्न क्षेत्रों में नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए नए प्रोग्राम व नीतियों का निर्माण करना
  • विभिन्न साझेदारों के लिए प्लेटफार्म उपलब्ध करवाना
  • देश में हो रहे नवोन्मेष का अवलोकन करना

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना : 32 प्रोजेक्ट्स को मंज़ूरी दी गयी

PM Kisan Sampada Yojana

27 फरवरी, 2020 को खाद्य प्रसंस्करण मंत्री की अध्यक्षता में अंतर-मंत्रिस्तरीय अनुमोदन समिति ने प्रधानमंत्री किसान सम्पदा योजना (PMKSY) के तहत 32 परियोजनाओं को मंजूरी दी।

मुख्य उद्देश्य 

मंजूर परियोजनाओं में 15,000 रोजगार के अवसर पैदा करने की क्षमता है। इन परियोजनाओं का उद्देश्य कृषि उपज के जीवनकाल को बढ़ाना और किसानों के लिए स्थिर राजस्व प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना

इस योजना को 2016 में 4 साल की अवधि के लिए लॉन्च किया गया था। इस योजना के लिए भारत सरकार ने 6,000 करोड़ रुपये आवंटित किए थे। इस योजना को सात प्रमुख घटकों अर्थात् एकीकृत कोल्ड चेन, मेगा फूड पार्क, कृषि-प्रसंस्करण समूहों के लिए बुनियादी ढांचा, खाद्य सुरक्षा, खाद्य प्रसंस्करण का विस्तार, मानव संसाधन और संस्थान, गुणवत्ता आश्वासन बुनियादी ढांचे को विकसित करने के लिए शुरू किया गया था। इस योजना मुख्य उद्देश्य से खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों का निर्माण करना  और मौजूदा इकाईओं को विकसित करना है।

श्रीलंका संयुक्त राष्ट्र मानव अधिकार परिषद के प्रस्ताव से अलग हुआ

श्रीलंका ने हाल ही में संयुक्त राष्ट्र मानव अधिकार परिषद (UNHRC) को सूचित किया है कि युद्ध के बाद जवाबदेही और सामंजस्य पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव से पीछे हट रहा है। UNHRC ने सर्वसम्मति का प्रस्ताव अंगीकृत किया था , जिसमें श्रीलंका को तमिल अलगाववादियों के साथ गृह युद्ध के छह साल बाद 2015 में मानवाधिकार हनन के आरोपों की जांच करने के लिए कहा गया था। यह प्रस्ताव श्रीलंका द्वारा सह-प्रायोजित था, जिसने 2017 में दो और वर्षों के लिए विस्तार मांगा था। पिछले साल, परिषद ने श्रीलंका को एक विश्वसनीय जांच-पड़ताल को पूरा करने के लिए दो और साल की मंजूरी दी थी।

मुख्य बिंदु

यूएनएचआरसी का प्रस्ताव 40/1 श्रीलंका और 11 अन्य देशों द्वारा सह-प्रायोजित था। इसका मुख्य उद्देश्य तमिल टाइगर विद्रोहियों के खिलाफ युद्ध के समय की हिंसा की जांच करना है।  तमिल विद्रोही अलग मातृभूमि की मांग कर रहे थे। उनका दावा था कि वे जातीय तमिल अल्पसंख्यक थे और इसलिए अलग मातृभूमि के लिए पात्र हैं।

अमेरिका-चीन की भूमिका

संयुक्त राज्य अमेरिका ने श्रीलंकाई सेना प्रमुख को युद्ध अपराधों का आरोप लगाते हुए अमेरिका में प्रवेश करने से रोक लगा दी है। विशेषज्ञों का मत ​​है कि यूएनएचआरसी से हटने का श्रीलंका का निर्णय अमेरिका के कदम का एक प्रभाव है।

क्यों?

चीन ने श्रीलंका के हंबनटोटा बंदरगाह को 99 साल की लीज पर ले लिया है। अब चीन द्वारा इसका उपयोग नौसेना बेस के रूप में किया जाता है। श्रीलंका के आंतरिक राजनीतिक मामलों में चीन का काफी प्रभाव हैं। श्रीलंका में चीन और उसके रक्षा बलों की अधिक मौजूदगी के कारण अमेरिका श्रीलंकाई सेना प्रमुख की अमेरिका यात्रा के लिए आश्वस्त नही है।

 28 फरवरी : राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

प्रतिवर्ष 28 फरवरी को राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाया जाता है, 28 फरवरी, 1928 को भौतिक विज्ञानी सी.वी. रमन द्वारा रमन प्रभाव की खोज को चिह्नित करने के लिए इस दिवस को मनाया जाता है। इस खोज के लिए सी.वी. रमन को 1930 में भौतिकी में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।इसका उद्देश्य लोगों में विज्ञान के महत्व और इसके अनुप्रयोग का संदेश फैलाना है।

Theme: Women in Science (विज्ञान में महिलाएं)

पृष्ठभूमि

राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की स्थापना केंद्र सरकार द्वारा 1986 में राष्ट्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी संचार परिषद की मांग के आधार पर की गई थी। पहली बारराष्ट्रीय विज्ञान दिवस 28 फरवरी 1987 को मनाया गया था। इस दिवस को लोगों के दैनिक जीवन में उपयोग किए जाने वाले विज्ञान के महत्व के बारे में संदेश फैलाने और विज्ञान व प्रौद्योगिकी को लोकप्रिय बनाने के लिए मनाया जाता है।

म्यांमार के राष्ट्रपति की भारत यात्रा : भारत और म्यांमार ने 10 ज्ञापन समझौतों पर हस्ताक्षर किये

27 फरवरी, 2020 को म्यांमार के राष्ट्रपति यू विन मिंट ने भारत की यात्रा पर आये। उनकी इस यात्रा के दौरान, भारत और म्यांमार ने विभिन्न क्षेत्रों में 10 ज्ञापन समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

मुख्य बिंदु

इस यात्रा के दौरान तस्करी के शिकार लोगों के प्रत्यावर्तन, त्वरित प्रभाव परियोजनाओं, राखीन राज्य के विकास आदि समझौतों पर हस्ताक्षर किए गये। इसके अलावा स्कूलों, सड़कों, जल आपूर्ति प्रणालियों और सौर ऊर्जा प्रणालियों के निर्माण पर भी ज्ञापन समझौते पर हस्ताक्षर किये गये।

राखीन राज्य (Rakhine)

म्यांमार का राखीन राज्य में बौद्ध समुदाय और रोहिंग्या समुदाय के बीच संघर्ष चल रहा है। यह संघर्ष द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान शुरू हुआ था। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान रोहिंग्या मुसलमानों ने एक अलग मुस्लिम राज्य के बदले में राखीन के बौद्धों के खिलाफ अंग्रेजों के साथ मिलकर लड़ाई लड़ी थी। वर्तमान में म्यांमार सरकार को संयुक्त राष्ट्र सहित अंतर्राष्ट्रीय निंदा का सामना करना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि भारत, म्यांमार में सितवे बंदरगाह के निर्माण में म्यांमार सरकार के साथ कार्य कर रहा है। यह बंदरगाह राखीन राज्य में स्थित है।  यह बंदरगाह कलादान मल्टी मॉडल ट्रांजिट प्रोजेक्ट का हिस्सा भी है।

बंगलुरु में लाइट कॉम्बैट हेलीकाप्टर उत्पादन का उद्घाटन किया गया

27 फरवरी, 2020 को रक्षा मंत्री राज नाथ सिंह ने बेंगलुरु के एचएएल परिसर में लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर उत्पादन का उद्घाटन किया।यह  परियोजना “मेक इन इंडिया” पहल का एक हिस्सा है।

लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर

लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर को पूर्ण रूप से  एचएएल द्वारा डिजाइन किया गया है। इसमें 2 इंजन इस्तेमाल किये गये हैं, इसमें कई नवीनतम तकनीकी विशेषताएं हैं। इन हेलीकॉप्टरों को सियाचिन बेस पर तैनात किया जायेगा, जो समुद्र तल से 4,700 मीटर ऊपर है। यह हेलीकाप्टर 500 किलोग्राम का भार ले जाने में सक्षम है।

महत्व

भारत वायु सेना को मजबूत करने और रक्षा निर्यात को बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहा है। भारत ने 2024 तक रक्षा निर्यात को 35,000 करोड़ रुपये तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर के विनिर्माण से भारत को इस लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

हिंदुस्तान एयरोनॉटिकल लिमिटेड (HAL)

यह सरकारी एयरोस्पेस व रक्षा कंपनी है, यह कर्नाटक के बंगलुरु में स्थित है। यह केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय के अधीन कार्य करती है। यह भविष्य के एयरक्राफ्ट तथा एरोइंजन टेक्नोलॉजी के विकास के लिए कार्य करती है। HAL ने अब तक ध्रुव एडवांस्ड लाइट हेलीकाप्टर, मल्टी रोल सेवेन सीटर चेतक हेलीकाप्टर, लाइट कॉम्बैट हेलीकाप्टर चीता और लांसर इत्यादि का विकास किया है।

भारत सरकार करेगी केन्द्रीय उपभोक्ता संरक्षण  प्राधिकरण की स्थापना

भारत सरकार ने केन्द्रीय उपभोक्ता संरक्षण प्राधिकरण की स्थापना करने का निर्णय लिया है। इसकी स्थापना ग्राहक सुरक्षा अधिनियम, 2019 के तहत की जायेगी।

केन्द्रीय उपभोक्ता संरक्षण  प्राधिकरण (Consumer Protection Authority)

यह प्राधिकरण उपभोक्ताओं के अधिकारों की सुरक्षा, संवर्धन और प्रवर्तन करने का कार्य करेगा। यह उन अनुचित व्यापार प्रथाओं, उपभोक्ता अधिकारों के उल्लंघन और भ्रामक विज्ञापनों से संबंधित मामलों को भी रेगुलेट करेगा।

केंद्रीय उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 2019

उपभोक्ता अधिकारों को मजबूत करने के लिए यह अधिनियम पारित किया गया था। इसे उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 1986 के स्थान पर लागू किया गया है। इस अधिनियम में 6 उपभोक्ता कृत्यों को परिभाषित किया गया है : सुरक्षा का अधिकार, मुखबिर होने का अधिकार, चुनने का अधिकार, सुने जाने का अधिकार, उपभोक्ता शिक्षा का अधिकार और शिकायत निवारण का अधिकार।

भ्रामक विज्ञापन (Misleading Advertisements)

इस अधिनियम में  भ्रामक विज्ञापनों को रोकने पर विशेष बल दिया गया है। उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 2019 की धारा 21 भ्रामक विज्ञापनों से संबंधित है। धारा 21 के तहत उपभोक्ता संरक्षण प्राधिकरण विज्ञापनदाता, निर्माता, व्यापारी या प्रचारक (endorser) पर 10 लाख रुपये तक का जुर्माना लगा सकता है। इस प्राधिकरण के पास प्रचारक (endorser) पर प्रतिबन्ध लगाने की शक्तियां हैं।

पद्म श्री जादव पायेंग को स्वामी विवेकानंद कर्मयोगी पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा

jadav payeng to be conferred the 2020 swami vivekananda karmayogi awardपद्म श्री जादव पायेंग को 29 फरवरी को नई दिल्ली में स्वामी विवेकानंद कर्मयोगी पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा । बड़े पैमाने पर वनीकरण के माध्यम से एक वास्तविक मानव निर्मित जंगल बनाने में उनके निरंतर प्रयासों के लिए उन्हें 6 वें कर्मयोगी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। यह पुरस्कार एक ट्रॉफी, एक पाठ और 1 लाख रुपये के पुरस्कार से बना है।

जादव पायेंग :
जादव पायेंग को भारत के वन मैन के रूप में प्रसिद्ध है। पद्म श्री जादव पायेंग जोरहाट के एक पर्यावरण कार्यकर्ता और वन कार्यकर्ता हैं। पिछले कई वर्षों में, उन्होंने ब्रह्मपुत्र नदी के एक सैंडबार पर पेड़ लगाए और उसे जंगल के जंगल में बदल दिया।

स्वामी विवेकानंद कर्मयोगी पुरस्कार:
स्वामी विवेकानंद स्मृति कर्मयोग अवार्ड का आयोजन माय होम इंडिया द्वारा नई दिल्ली में किया जाता है। यह पुरस्कार 2013 में पहली बार प्रदान किया गया था । कर्मयोगी पुरस्कार पूर्वोत्तर भारत के महान हस्तियों को प्रदान किया जाता है जो अपने जीवन को राष्ट्र के लिए समर्पित करते हैं और संबंधित क्षेत्रों में उनके योगदान के लिए कला और संस्कृति, खेल, शिक्षा आदि के माध्यम से राष्ट्रवाद को बढ़ावा देते हैं।

हुरून ग्लोबल रिच लिस्ट 2020 : विश्व के 10 सबसे अमीर व्यक्ति

हाल ही में हुरून ग्लोबल रिच लिस्ट 2020 जारी की गयी। इस सूची में 71 देशों से 2,817 अरबपतियों को शामिल किया गया है। ‘हुरुन ग्लोबल रिच लिस्ट 2020’ के अनुसार, चीन में दुनिया के सबसे अधिक अरबपति हैं। चीन में कुल 799 अरबपति हैं, जबकि अमेरिका में 626 अरबपति हैं।

इस रिपोर्ट के अनुसार अमेज़न के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेफ बेजोस विश्व के सबसे धनी व्यक्ति हैं, उनके पास 140 अरब डॉलर की संपत्ति है। माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स तीसरे स्थान पर हैं, जबकि मुकेश अंबानी को 67 अरब डॉलर के साथ 9वें स्थान पर हैं। वह टॉप-10 सूची में शामिल होने वाले एकमात्र भारतीय हैं और वह एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

CLICK HERE विश्व के 10 सबसे अमीर व्यक्ति की सूची

मारिया शारापोवा ने सन्यास की घोषणा की

पांच बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन और पूर्व डब्ल्यूटीए वर्ल्ड नंबर 1 मारिया शारापोवा ने हाल ही में टेनिस से संन्यास की घोषणा की । रूस की 32 वर्षीय टेनिस खिलाड़ी ने 36 डब्ल्यूटीए खिताब जीते हैं और लगातार 21 हफ्तों तक डब्ल्यूटीए वर्ल्ड नंबर 1 रैंक हासिल की है। उन्होंने 17 साल की उम्र में अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता था, जब उन्होंने 2004 में विंबलडन का खिताब जीता था।

मारिया शारापोवा

मारिया शारापोवा का जन्म 19 अप्रैल, 1987 को भूतपूर्व सोवियत संघ में हुआ था। उन्होंने 19 अप्रैल, 2001 से अपने पेशेवर करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने कुल पांच ग्रैंड स्लैम ख़िताब जीते – दो फ्रेंच ओपन, एक-एक ऑस्ट्रेलियन ओपन, विंबलडन और यू.एस. ओपन। मारिया शारापोवा ने अपने करियर में एकल वर्ग में कुल 36 WTA खिताब जीते।

Hindi Current Affairs  : 27 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 26 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 25 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 24 Feb 2020

Hindi Current Affairs  : 23 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 22 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 21 Feb 2020

Hindi Current Affairs : 20 Feb 2020

I hope, this article about 28 February 2020 Current Affairs in Hindi | 28 फरवरी 2020 करेंट अफेयर्स | GKTodayJobAlert in Hindi is very informative for you.

If you liked this article please follow us on Facebook and Twitter.

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.